देश

आतंकियों के मरने का सबूत मिटा रहा पाकिस्तान

पुलवामा हमले के 12 दिन बाद जिसमे 40 CRPF जवानों की शहादत हुई थी, भारत की एयर फोर्स ने पाकिस्तान की जमीन के अंदर जाकर एयर स्ट्राइक की जो कि पाकिस्तान के बालाकोट के आतंकी कैम्प्स पर की गई है । इस एयर स्ट्राइक में 350 से ज्यादा आतंकवादी मारे गए है । सूत्रों के अनुसार एयर फोर्स में 12 मिराज एयरक्राफ्ट पाकिस्तान सिमा के 40 किलोमीटर अंदर जाकर आतंकी कैम्प्स के ऊपर 1000 किलो के बमो की बौछार कर दी जिसमे सारे आतंकवादी जो उस वक़्त कैम्प्स में मौजूद थे मारे गए।

यह स्ट्राइक करीब 3:30 सुबह में हुई थी। पाकिस्तान आर्मी ने स्टेटमेंट जारी कर कहा है भारतीय लड़ाकू विमान एलओसी क्रॉस कर आये थे और उन्होंने बम बालाकोट के नजदीकी इलाको में गिराया है। साथ ही साथ पाक आर्मी ने यह भी कहा कि “भारतीय एयर फोर्स को पाकिस्तान एयर फोर्स की तरफ से संतुलित जवाब दिया गया है”.

पाकिस्तान इस हमले को मानने को तैयार नही है साथ ही साथ पाकिस्तान की तरफ से सबूत मिटाने का काम भी शुरू किया जा चुका है । मारे गए आतंकियों के शवों को हटाया जा रहा है। पाकिस्तान का विदेश मंत्री शाह मुहम्मद कुरैशी यह भी कह रहा है कि जान माल की क्षति नही हुई है। साथ ही साथ उसने यह भी कहा है कि इसका जवाब हम अपने तरीके से देंगे और वक़्त को जगह भी हम अपने पसंद से चुनेंगे । पाकिस्तान को भी आत्मरक्षा का अधिकार है और इसे हम सीज फायर का उलंघन मानते है।

इस एयर स्ट्राइक में बड़ी संख्या में आतंवादी, उनके ट्रेनर और सीनियर कमांडर मारे गए है। इस कैम्प का संचालन मौलाना यूसुफ अज़हर उर्फ उस्ताद गौरी कर रहा था । उस्ताद गौरी जैश ए मुहम्मद प्रमुख मसूद अजहर का साला भी है। इस हमले में उसके भी मारे जाने की खबर है।

इस हमले जैश ए मुहम्मद के सबसे पहले और सबसे बड़े आतंकी ठिकाने को भी नष्ट कर दिया गया है। बालाकोट में स्थित यह कैम्प सबसे पुराना और सबसे बड़ा ट्रेनिंग कैम्प था। इस कैम्प में बड़ी संख्या जिहादियों को ट्रेनिंग दी जाती थी।

यह हमला इंटेलिजेंस इनपुट मिलने के बाद किया गया जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान जैश ए मुहम्मद की सहायता से और फिदायीन हमले कराने की कोशिश में लगा हुआ है। ये फिदायिन हमले देश के अलग अलग भागो में करने की प्लानिंग थी।

पाकिस्तान की तरफ से भी F 16 विमान जवाबी कार्यवाही के लिए लाया गया था लेकिन भारतीय सेना की ताकत देख पाक विमान भाग खड़े हुए।

भारतीय वायुसेना को हाई अलर्ट पर रख गया है जिसके की पाक की तरफ से किसी भी संभावित कार्यवाही का मुंहतोड़ जवाब दिया जा सके । पाकिस्तान का विदेश मंत्री पाक सेना के साथ बैठक कर रहा है।

21 मिनट तक चले इस ऑपरेशन में पाकिस्तान के मुज़्ज़फराबाद, चकोटी और बालाकोट स्थित 13 आतंकी ठिकानों के साथ साथ जैश ए मुहम्मद का अल्फा 3 कंट्रोल रूम भी पूरी तरह से तबाह कर दिया गया है।

देश सुरक्षित हाथो में : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक रैली में कहा मैन जो 2014 में कहा था उसे पूरा किया । यह देश अब सुरक्षित हाथो में है। मैं आज अपने देशवासियों को बता देना चाहता हु 2014 में मैन कहा था “सौगंध मुझे इस मिट्टी की मैं देश नही मिटने दूंगा, मैं देश नही रुकने दूंगा, मैं देश नही झुकने दूंगा। मेरा वचन है भारत मे को, तेरा शीश नही झुकने दूंगा”।

पुलवामा का बदला

पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के 2 हफ्ते के अंदर भारतीय वायुसेना ने एयर स्ट्राइक कर पुलवामा में हुए कायरतापूर्ण हमले का बदला ले लिया ।

21 मिनट तक चली एयर स्ट्राइक

बालाकोट जो मुज़्ज़फराबाद से 24 किलोमीटर नार्थ वेस्ट में मौजूद है। 3:45 से 3:53 तक जिसमे जैश ए मुहम्मद के ट्रेनिंग कैम्प और लश्कर ए तैयबा ट्रेनिंग कैम्प तबाह किये गए। मुज़्ज़फराबाद में 3:48 से 3:55 और चकोटी में 3:58 से 4:04 तक चला एयर स्ट्राइक।

जाने टारगेट क्या थे ।

बालाकोट, चकोटी और मुज़ाफ़राबाद के लांच पैड जो तबाह कर दिए गए।

जैश का अल्फा 3 कंट्रोल रूम भी तबाह किया गया।

अल्फा 3 का फिक्स कम्युनिकेशन सेंटर जो आतंकवादियों को इनपुट देने के काम लिया जाता है और जिस से आतंकी एक दूसरे के साथ संपर्क करते थे।

मुशर्रफ का डर

जनरल परवेज मुशर्रफ ने पाकिस्तान सेना को धमकी देते हुए कहा है की भारत के साथ परमाणु युद्ध की सोचना बेवकूफी है अगर हम उनपर 1 परमाणु बम गिराते है तो वो 20 परमाणु हमारे ऊपर गिराएंगे और हमे खत्म कर देंगे ।

पुलवामा हमले के 24 घंटे के अंदर बना लिया था प्लान।

सूत्रों में मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुलवामा हमले के 24 घंटे के अंदर ही इसका बदला लेने का पूरा प्लान तैयार कर लिया था।

जाने बालाकोट है कहा

बालाकोट पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के लोकसभा क्षेत्र खैबर पख्तूनख्वा के पास स्थित एक छोटा सा शहर है । यह लाइन ऑफ कंट्रोल से करीब 50 किलोमीटर दूर है।

पाक विदेष मंत्री ने बुलाई एमरजेंसी मीटिंग।

पाकिस्तान विदेश मंत्री ने एक एमरजेंसी मीटिंग बुलाई है जिसमे सुरक्षा का जायजा लिया जाएगा।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *