देश

पाकिस्तान ने फिर दिखाई औकात अभिनंदन को लौटाने के लिए ये शर्त रखी

भारत और पाकिस्तान के बीच पुलवामा हमले के बाद चल रही तन तनी के दौरान पाकिस्तान ने एक बार फिर से अपनी औकात दिखाई है। पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले में जिसमे 40 से ज्यादा जवान शाहिद हुए थे जिसके बाद भारत ने पाकिस्तान में मौजूद आतंवादी कैम्प पर हमला कर 350 कायदा आतंकवादी मार गिराए।
इस हमले से बौखलाया पाकिस्तान आतंवादियों की सुरक्षा के लिए भारत के सैन्य ठिकानों पर हमला करने के लिए अपने एडवांस एयरक्राफ्ट F 16 लेकर सुबह के समय में आया था जिसका जवाब देने के लिए भारतीय एयर फोर्स पहले से तैयार बैठी थी । भारतीय राडार पर जैसे ही अमेरिका से भीख में दिए गए पाकिस्तानी एयरक्राफ्ट आये भारतीय एयरफोर्स ने अपने एयरक्राफ्ट से उनका पीछा किया।
बदकिस्मती ये रही कि वीर अभिनन्दन को बेहद पुरानी और खटारा मिग 21 दी गयी। हिम्मत उस वीर में इतनी भरी थी कि उसने खटारा मिग 21 से भी पाकिस्तान का एक F 16 मार गिराया। लेकिन हमले में इस कबाड़े मिग 21 ने दम तोड़ दिया और पैरासूट की मदद से कूदते वक़्त अभिनन्दन पीओके में जा पहुँचे। जहा पाकिस्तान की सेना ने पहले तो उनके साथ बदतमीजी की फिर उन्हें मारा पीटा। बाद में भारत की तरफ से बढ़ते दवाब के बाद वीडियो जारी कर यह दिखाने का प्रयास किया की जवान की सही सलामत रखा गया है।
पाकिस्तान ने जिनेवा कन्वेंशन पर सिग्नेचर किया है जो यह कहता है की विरोधी देश के सैनिक को अगर पकड़ा गया तो उसे तुरंत लौटाना होता है और उस सैनिक पर किसी भी तरह का अत्याचार नही होना चाहिए।
पाकिस्तान ने विदेश मंत्री ने एक स्थानीय चैनल से बातचीत में कहा कि अगर भारत बातचीत के लोए राज़ी होता है तभी हम अभिनन्दन को छोड़ने पर विचार करेंगे, जब रिपोर्टर ने यह पूछा की इंडिया ने जल्द से जल्द रिहाई को कहा है तब उसने कहा कि इसपर हम विचार करेंगे। केके तरफ पाकिस्तान जिनेवा कन्वेंशन को मानने की बात कर रहा है दूसरी तरफ अभिनंदन को छोड़ने के लिए शर्त रख रहा है।
पाकिस्तान शांति की बात करता है और दूसरी ओर से लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है सुबह 7 बजे से साउथ कश्मीर और एलओसी से सटे इलाको में फायर कर रहा है।

अमेरिका लगातार पाकिस्तान पर दबाव बना रहा है । यूनाइटेड नेशंस की सेक्यूरिटी कॉउन्सिल में भी पाकिस्तान के ऊपर प्रस्ताव लाकर घेराबंदी करने की तैयारी है। अमेरिका के अलावा कई देशो ने भारत के द्वारा हो रही इस कार्यवाही का समर्थन किया हैं। भारत सेना और डिप्लोमेसी दोनों तरीको से पाकिस्तान को घेर रहा है। भारत का दावा है कि वुर अबिनन्दन 2 से 3 दिन के अंदर भारत वापस आएंगे। भारत की तरफ से तीनों सेनाओं को खुली छूट दे दी गयी है जैसे चाहिए जिस तरह की चाहिए कार्यवाही की जाए।
अगर भारत की तरफ से दबाव बरकरार रहा तो पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था इतनी भी मजबूत नही है कि बिना कर्जे के वह 3 हफ्ते तक सरकार चला पाये ऐसे में अगर भारत पाकिस्तान पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाता है जो हर तरफ से अलग थलग पड़ा पाकिस्तान पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगा। पाकिस्तान को सह देने वाला चीन भी अपना पैर पीछे खींच चुका है हर मौके पर पाकिस्तान का साथ देने वाला ड्रैगन भी अब उसके साथ नही है।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *