देश

अभिनंदन को रोकने की पाकिस्तान की आखिरी साजिश भी नाकाम, वापस लौटे

पुलवामा में पाकिस्तान के द्वारा कराए गैर आतंवादी हमले के बाद भारत के द्वारा पाकिस्तान कर आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक किया गया था जिसके जवाब में पाकिस्तान की तरफ से भारत के सैन्य ठिकानों पर अत्याधुनिक एयरक्राफ्ट F 16 की मदद से हमला करने की साजिश रची। लेकिन पाकिस्तान की इस चाल को नाकाम करते हुए भारत का एक शेर सैनिक अभिनंदन ने लगभग अस्तित्व में खत्म हो चुके मिग 21 की मदद से मार गिराया। बदकिस्मती यह रही कि अभिनन्दन का एयरक्राफ्ट इस जवाबी कार्यवाही में निष्ट हो गया और जब अभिनंदन पैराशूट के माध्यम से नीचे आये तो पाकिस्तान की सरहद में जा पहुँचे।

इस सैनिक में हिम्मत इतनी थी कि उतरते की जैसे ही वह पाकिस्तानी नागरिकों से खुद को घिरा हुआ पाया जय हिंद और भारत माता की जय कर नारे लगाए। पाकिस्तान सेना के चंगुल में आते ही जो भी संभावित दस्तावेज थे उन्हें निगल लिए। पाकिस्तान सेना के द्वारा मिशन के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा ” i am not supposed to tell you this” चूंकि पाकिस्तान में इंग्लिश समझने वाले नही है तो पाकिस्तानी सैनिकों के कहा हिंदी में बोलो रो उन्होंने कहा अपने नाम के अलावा और कोई जानकारी नही दे सकता।

उत्साह इतना था कि पाकिस्तानी सैनिकों का उत्साह अभिनन्दन के उत्साह के आगे बिल्कुल ना के बराबर था। पाकिस्तान की तरफ से की गई बेरहमी की वजह से अभिनन्दन के सर से खून निकल रहा था लेकिन उसके बावजूद इसके परवाह न किये बगैर अभिनन्दन पाकिस्तानी सैनिकों के सामने डटे रहे। भारत की तरफ से बनाए गए चौतरफ़ा दवाब की वजह से डरे सहमे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कल यह घोषणा तो कर दी कि हम शांति के लिए अभिनन्दन को भारत लौटा देंगे।

पाकिस्तान की प्रधानमंत्री इमरान खान की तरफ से किए गए इस घोषणा के बाद देश के सारे दोहरी प्रवृत्ति के राजनीतिक नेता अपने अपने तरीके से इसपर अपनी राजनीति भी सेकने से नही चुके । बीजेपी से कांग्रेस में शामिल हुए कौरव क्रिकेटर नवजोत सिंह सिधु से लेकर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इमरान की तरफ में कसीदे गढ़े वही 2016 में हुई सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगने वाले केजरीवाल ने भी अपनी तरीके से चिल्लाते हुए आपनी राजनीति चमकाई।

इमरान खान के द्वारा किए गैर इस घोषणा के बाद पुट देश बेसब्री से अपने वीर सैनिक का इंतजार में लग गया । सुबह से भी जिस रास्ते से विंग कमांडर अभिनन्दन को आना था उस वाघा अटारी बॉर्डर पर जनता पलके बिछाकर अपने देश के वीर सैनिक का इंतजार करने लगी । पाकिस्तान ने कंफ्यूजन बनाने की कोशिश की और कभी जमीनी रास्ते तो कब्जी आसमानी रास्ते भेजने को कहता रहा।

आज वाघा अटारी बॉर्डर बार जवान के स्वागत के लिए जमा हुई भिफ कि वजह से अव्यवस्था न हो इसके लिए भारत की तरफ से बीटिंग रिट्रीट भी नही किया गया । देश के विभिन्न शहरों में ढोल नगाड़ों के साथ जवान की आने की खुशी मनाई जा रही थी जिसकी तस्वीरे देश के तमाम न्यूज़ चैंनलों पर भी देखने को मिली।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *