देश

पर्रिकर के निधन पर कांग्रेस की तुक्ष हरकत

5 साल केंद्र में सत्ता से दूर रहने वाली राष्ट्रीय पार्टी कांग्रेस सत्ता को इस प्रकार लालायित है कि सरकार बनाने का एक भी मौका हाथ से नही जाने देना चाहती है । कल गोवा के मुख्यमंत्री और कर्मठ नेता श्री मनोहर पर्रिकर जी का कैंसर की लंबी बीमारी से झूझने कर बाद निधन हो गया। पर्रिकर जी के निधन के आधे घंटे के अंदर ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की तरफ से राज्य के राज्यपाल की चिट्ठी लिख दी गयी कि हम पर्रिकर जी के निधन के बाद सिंगल लार्जेस्ट पार्टी है अतः हमें सरकार बनाने दिया जाए।

48 घंटे के अंदर कांग्रेस दूसरी बार राज्यपाल को सरकार बनाने के लिए संपर्क कर चुकी है। हाल में कांग्रेस विधायकों का 14 सदस्यीय दाल राज्यपाल से मिला है और सरकार बनाने का दावा पेश किया है । कांग्रेस ने राज्यपाल को लिखे खत में सीटों का समीकरण भी दिखाया है कि हमारे पास 14 विधायक है और हम राज्य में सबसे बड़ा दल है।

बता दे कि कांग्रेस ने शनिवार जब पर्रिकर की तबियत ज्यादा बिगड़ गयी थी तब भी राज्यपाल से इसके लिए संपर्क किया था । बीजेपी की तरफ से इसपर प्रतिक्रिया भी आ गयी है। नाराज बीजेपी के सिनियर नेता सह मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह ने कहा ‘यह कांग्रेस पार्टी की असंवेदनशीलता का एक और नमूना है। सत्ता की लोलुपता इतनी ज्यादा है कांग्रेसी नेताओं को कि स्व. पर्रिकर जी के अंतिम संस्कार का भी इंतज़ार नहीं कर सके। आज राजकीय शोक है, यह सभी को साथ मिलकर स्व. पर्रिकर जी को श्रद्धांजलि देने का समय है। ”

कल गोवा के मुख्यमंत्री और राष्ट्र के अब तक के सर्वश्रेष्ठ रक्षा मंत्री श्री मनोहर पर्रिकर का निधन हो गया था । पर्रिकर लंबे समाज से कैंसर की बीमारी से झूझ रहे थे। शनिवार उनकी तबियत ज्यादा बिगड़ गयी और उसके बाद उनका निधन हो गया था । पर्रिकर अपने काम के लिए जाने जाते थे बीमारी से जूझते हुए भी उन्होंने अपने कार्य को प्राथमिकता दी थी और नाक में पाइप लगे होने के बावजूद वो बजट पेश करने चले आये थे । इसी तरफ बीमारी के दौरान भी वह करियो के निरीक्षण पर चले जय करते थे ।

इधर गोवा में राजनीतिक सरगर्मी के बीच ने मुख्यमंत्री को लेकर कोई फैसला नहीं हो पाया है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी और सहयोगी दलों के बीच सहमति नहीं बन पाई  है। केंद्रीय मंत्री नितिन गड़गरी , गोवा बीजेपी के अध्यक्ष विनय तेंदुलकर और विधानसभा अध्यक्ष प्रमोद सावंत के बीच बातचीत चल रही है। माना जा रहा है कि 2 बजे तक गोवा के अगले मुख्यमंत्री को लेकर कोई फैसला आ सकता है। और 5 बजे पहले पहले शपत ग्रहण भी हो जाएगा। 

आपको बता दें कांग्रेस ने भी साथ में बहुमत होने की बात करते हुए सरकार बनाने का दावा ठोक दिया है। गोवा के डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने बताया कि MGP नेता सुधीन धवलिकर भी मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं, लेकिन इसपर सहमति नहीं बन पाई है।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *